Sunday, September 8, 2019

सात अजूब दिल्ली में – स्क्रैप टू वंडर पार्क

साल 2019 में दिल्ली में सैलानियों के लिए एक नया आकर्षण तैयार हुआ। वह है स्क्रैप टू वंडर पार्क। यह एक ऐसा पार्क है जहां दुनिया के सात अजूबे एक ही जगह देखे जा सकते हैं। सेवेन वंडर्स ऑफ वर्ल्ड पार्क पर्यटकों के लिए 22 फरवरी 2019 खोल दिया गया। यहां दुनिया के सात अजूबों की रेप्लिका बनाई गई है जो सैलानियों के लिए आकर्षण का केंद्र है। पर इसके निर्माण से जुड़ी खास बातें जान आप हैरान रह जाएंगे।

महज पांच महीने में तैयार
औद्योगिक एवं अन्य तरह के 150 टन कचरों का इस्तेमाल करके बनाया गया है। इसलिए इसे नाम दिया गया है वेस्ट टू वंडर। और आपको पता है इसे बनाने में कुल पांच महीने का समय लगा है। इसे दक्षिणी दिल्ली नगर निगम ने जाने माने शिल्पकारों की मदद से तैयार कराया है। 
दिल्ली के इस थीम पार्क में 60 फीट के एफिल टॉवर और 20 फीट के ताजमहल सहित दुनिया के सात आश्चर्यों की प्रतिकृति बनाई गई है। 

कचरे का बेहतरीन इस्तेमाल
इस पार्क की कलाकृतियों की खास बात ये है कि इसे वेस्ट मैटेरियल जैसे पुराने बेंच, स्क्रैप मैटल, टाइपराइटर का इस्तेमाल करके बनाया गया है। इस पार्क का निर्माण दक्षिणी दिल्ली नगर निगम ने कचरे का प्रसंस्करण करके शहर की सुंदरता बढ़ाने की पहल के रूप में किया है।
पार्क की सातों प्रतिकृतियों का निर्माण में ऑटोमोबाइल कचरे और पंखों, छड़ी, लोहे की चादरें, नट-बोल्ट, साइकिल और मोटरसाइकिल सहित कई अन्य तरह के धातुओं के कचरे का इस्तेमाल किया गया है।

सात अजूबे यहां देखें
दुनिया के सात अजूबों का नाम तो आपने सुना ही होगा। पर हर किसी की किस्मत में नहीं की वह इन्हें देखने जा सके। तो आप इस पार्क में इनकी प्रतिकृति देख सकते हैं। इस पार्क रियो डी जेनेरियो का क्राइस्ट द रिडिमर (25 फीट), रोम का क्लोजियम (15 फीट), न्यूयॉर्क की स्टैच्यू ऑफ लिबर्टी (30 फीट) में ताजमहल (20 फीट), गीजा के महान पिरामिड (18 फीट), एफिल टॉवर (60 फीट), पीसा की झुकी हुई मीनार (25 फीट) शामिल हैं।

प्रवेश के लिए टिकट
वेस्ट टू वंडर पार्क में आने वाले व्यस्क लोगों को 50 रुपये और 3-12 साल के बच्चों को 25 रुपये मूल्य की टिकट खरीदनी होंगी। वहीं तीन साल से कम उम्र के बच्चों और वरिष्ठ नागरिकों, दिल्ली के नगर निगम के स्कूल के छात्रों के लिए प्रवेश नि:शुल्क है।
पार्क सुबह 11 बजे से रात्रि 10 बजे तक खुला रहता है। पार्क के अंदर खाने पीने के लिए कोई कैंटीन नहीं हैं। हालांकि पार्क के उदघाटन के छह महीने बाद यहां सैलानियों की इतनी भीड़ जुटने लगी कि रविवार और छुटट्टी के दिन इसका प्रवेश शुल्क बढ़ाकर 50 से 100 रुपये कर दिय़ा गया है।

सैलानियों की भारी भीड़
दरअसल ये पार्क अपने उदघाटन के कुछ दिनों बाद ही दिल्ली के लोगों में अत्यंत लोकप्रिय हो गया। रोज यहां हजारों लोगों की भीड़ जुटने लगी। दक्षिण दिल्ली नगर निगम को इस पार्क से इतनी कमाई हुई है कि इसके निर्माण की लागात छह महीने में ही निकल गई है।

कैसे पहुंचे – वेस्ट टू वंडर पार्क दिल्ली के रिंग रोड पर सराय काले खां बस अड्डे से उत्तर की ओर स्थित है। यह निजामुद्दीन रेलवे स्टेशन से भी काफी करीब है। निकटम मेट्रो का स्टेशन हजरत निजामुद्दीन है। आप यहां रिंग रोड की मुद्रिका सेवा की बसों से पहुंच सकते हैं। पार्क के प्रवेश द्वार पर बाइक पार्किंग का इंतजाम है।
- विद्युत प्रकाश मौर्य- vidyutp@gmail.com 
(WASTE TO WONDER, DELHI, HAJARAT NIJAMUDDIN, SARAI KALE KHAN )

No comments:

Post a Comment