Wednesday, September 18, 2019

देहरादून का रोवर्स केव – डाकुओं की गुफा - गुचू पानी


लैंसडाउन चौक से चली सिटी बस पैवेलियन ग्रांउड, कर्जन रोड, राजापुर रोड होते हुए देहरादून के  कैंटोनमेंट इलाके से गुजरने लगी। इस क्षेत्र में उत्तरखंड सरकार के कई मंत्रियों के निवास हैं। आगे साफ सुथरा कैंट का इलाका आ गया। इस इलाके में ही उत्तराखंड सरकार का स्टेट गेस्ट हाउस बाजपुर हाउस दिखाई दिया। इसी क्षेत्र में मुख्यमंत्री का आवास भी है। ये देहरादून का हरा भरा प्रदूषण मुक्त इलाका है। संभवत इस इलाके को छोड़ कर राजनेता और अधिकारी जाना नहीं चाहते इसलिए देहरादून में ही बने रहना चाहते हैं।

और हम पहुंच गए गुचू पानी - हमें आगे केंद्रीय विद्यालय और मिलिट्री हास्पीटल दिखाई देता है। पर सिटी बस आगे गुचू पानी नामक जगह पर जाकर रुक जाती है। ये गुचू पानी क्या है। हमने यहां आने से पहले गुचू पानी का नाम कभी नहीं सुना था। लेकिन यहां उतरने पर देखा कि काफी लोगों की भीड़ लगी है जो आगे जा रहे हैं। पार्किंग में दर्जनों वाहन लगे हैं। तो हम भी उनके पीछे हो लिए।


मतलब की डाकुओं की गुफा - गुच्चु पानी को राबर्स केव यानी डाकुओं की गुफा भी कहते हैं। इस गुफा की लंबाई 650 मीटर है जिसमें हमेशा घुटने भर पानी रहता है। यह अद्भुत गुफा है जिसके अंदर कई रहस्यपूर्ण रास्ते बताए जाते हैं। इसमें अंदर जाकर काफी रोमांच का अनुभव होता है। इसमें आम तौर पर सालों भर पानी रहता है।

अनूठी और डरावनी गुफा - अद्भुत गुफा डरावनी के साथ-साथ रहस्यपूर्ण भी है। कहने वालों का तो यह भी कहना है की अंग्रेजी शासन में जब डकैत डकैती करने जाते थे तो उसके बाद इसी गुफा में आकर छुप जाते थे।

ब्रिटिश काल में डकैत छुपते थे यहां - यहां पर अंग्रेजी सेना पहुंच नहीं पाती थी क्योंकि इसके रहस्यपूर्ण रास्ते भी थे। जिसकी वजह से डकैत डकैती का सामान और खुद यहां से बच निकलने में कामयाब भी हो जाते थे। पर आज यह रहस्यमयी गुफा यहां आने वाले लोगों के लिए कौतूहल का विषय बनी रहती है।

झरने के नीचे स्नान का मजा – गुफा के अंदर कई झरने हैं। गुफा का सबसे ऊंचे झरने में 10 मीटर की ऊंचाई से पानी गिरता है। लोग इसमें देर तक नहाने का भी मजा लेते हैं। देहरादून शहर के लोग तो यहां अक्सर आते रहते हैं। वहीं काफी संख्या में दूर-दूर से यहां पर पर्यटक आते हैं और इस गुफा में बहते झरने घुटनों से नीचे तक के पानी में अपना समय का आनंद ही नहीं बल्कि गर्मी से राहत भी पाते हैं।

इस गुफा के चारों तरफ से पानी की धाराएं निकलती है और यह पानी इतना साफ और स्वच्छ है कि चांदी की तरह इस पानी में पत्थर भी चमकते रहते हैं। ये जल धाराएं आगे जाकर नदी में समाहित हो जाती हैं।

कैसे पहुंचे - गुचू पानी के रूप में जानी जाने वाली यह डाकू गुफा देहरादून शहर के केंद्र से 8 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है। यह जगह देहरादून के सबसे लोकप्रिय पिकनिक स्पॉट में से एक है। आप यहां सिटी बस या फिर अपने निजी वाहन से पहुंच सकते हैं।
-        विद्युत प्रकाश मौर्य- vidyutp@gmail.com
-        (GUCHU PANI, ROBERS CAVE, DEHRADUN )   


2 comments:

  1. रोचक विवरण। सचमुच घुच्चु पानी का सफर रोमांचक रहता है। देहरादून में जब था तो इधर जाता था। दिन में भी अन्धकार और गूंजती आवाज़ें रोमांच में बढ़ोत्तरी कर देती हैं।

    ReplyDelete