Friday, September 14, 2018

चेन्नई में समोसा और जलेबी की दुकानें

चन्ना केशव मंदिर से बाहर निकलकर एनसी बोस रोड पर पैदल चल रहा हूं। यहां कुछ पोस्टर हिंदी में दिखाई देते हैं सेक्स प्राबल्म वाले तो कुछ धार्मिक पोस्टर। पर सुखद आश्चर्य हुआ जब चेन्नई में समोसा और जलेबी की तीन दुकानें एक साथ दिखाई दे गईं। साहुकार पेट में समोसा, जलेबी की दुकानें कई दशकों से चल रही हैं। एक दुकान पर रुक गया जलेबियां खाने के लिए। दुकानदार भाई ने बताया कि वे यूपी फतेहपुर जिले के रहने वाले हैं। बताते हैं कि बड़ी संख्या उनकी दुकान से तमिल लोग समोसा, कचौड़ी और जलेबी लेकर जाते हैं। दुकान का नाम है राजस्थान चाट सेंटर। वैसे चेन्नई शहर में मारवाड़ी लोग भी थोड़ी संख्या में है। चेन्नई के कुछ मुहल्ले भी हैं जो हिंदी बहुल हैं।

चेन्नई से त्रिची परवीन ट्रैवल्स के संग -  मेरी अगली मंजिल है तमिलनाडु का त्रिची शहर। रेल में आरक्षण नहीं मिला है तो बस में सीट बुक करा ली है। अब मैं साहुकार पेट से वालटेक्स रोड होते हुए पैदल ही चेन्नई सेंट्रल रेलवे स्टेशन के बाहर पहुंच गया हूं। यहां से पैदल चलते हुए ही इग्मोर रेलवे स्टेशन की ओर धीरे धीरे बढ़ रहा हूं। शाम के सात  बजे हैं। मेरी त्रिची जाने वाली बस रात 9.30 बजे है। वह बस इग्मोर रेलवे स्टेशन के सामने परवीन ट्रैवल्स से खुलेगी।

पर इससे पहले डिनर की बारी है। इग्मोर स्टेशन के सामने गली में सरवन भवन की शाखा है। वहां खाने चला गया। पर इस बार सरवन भवन के खाने ने खुश नहीं किया। भोजन के बाद परवीन ट्रैवल्स के दफ्तर में पहुंच गया हूं। आज सुबह चेन्नई एक्सप्रेस में यात्रा दौरान गोआईबीबो डाट काम से परवीन ट्रैवल्स की नान एसी 2 बाई 2 बस में सीट बुक की थी। यहां आकर पता चला कि परवीन ट्रैवल तमिलनाडु की प्रतिष्ठित ट्रैवल कंपनी है। इस कंपनी पास मर्सडीज, अशोक लीलैंड, क्रोना आदि कंपनियों की लग्जरी बसें हैं। दफ्तर का स्टाफ काफी शालीन है। वे हमें बस के समय से 15 मिनट पहले बगल वाली सड़क पर ले जाकर थोड़ा इंतजार कराते हैं। वहीं बस आती है और मैं अपनी सीट पर बैठ गया।
इग्मोर बस का पहला पड़ाव है। त्रिची जाने से पहले बस चेन्नई शहर के सभी प्रमुख इलाकों से होती हुई सवारियां लेकर जाती है। आनलाइन बुकिंग में आप अपनी सुविधा के अनुरूप पिकअप प्वाइंट चुन सकते हैं। तो बस डेढ़ घंटे चेन्नई शहर में ही घूमती रही। पहले टी नगर , फिर शास्त्री नगर, एलबी रोड, थिरुवनमयूर, कामराज नगर, तारामणि, वेलच्चेरी, राष्ट्रीय समुद्र प्रौद्योगिकी संस्थान से होती हुई बस पल्लरीकलै, मेडावकम के बाद जाकर तांब्रम में रुकती है। यहां बड़ा जाम लगा है। 
तांब्रम में भी परवीन ट्रैवेल्स का दफ्तर है। चेन्नई शहर में मुझे एआईडीएमके पार्टी की ओर पीने के पानी के मटके के स्टाल लगवाए हुए दिखाई दिए। तांब्रम के बाद बस हाईवे पर रफ्तार में चल पड़ी। ये बस मदुरै तक जाती है। बस में दो ड्राईवर हैं और एक सहायक है। बस को बहुत ही बेहतरीन तरीके से ड्राईवर चला रहे हैं। 
चेन्नई से त्रिची हाईवे पर सुबह के तीन बजे की एक सेल्फी....

रात को 3 बजे एक रेस्टोरेंट में बस चाय के लिए रूकी। सुबह 4.45 बजे बस ने हमें त्रिची बस स्टैंड के पास उतार दिया। मेरे साथ उतरी एक महिला से मैंने बस स्टैंड का रास्ता पूछा। दो सौ मीटर चलकर मैं त्रिची के बस स्टैंड के अंदर पहुंच चुका था। यहां से 5 बजे तंजौर की बस मिल गई। त्रिची से तंजौर की दूरी 50 किलोमीटर है और किराया है 43 रुपये। सुबह के 6 बजे मैं तमिलनाडु के तंजौर शहर के बस स्टैंड में पहुंच गया हूं।
(CHENNAI, SAMOSA, BUS, PARVEEN TRAVELS, TIRICHY ) 
-        विद्युत प्रकाश मौर्य   
दानापानी के लेखों पर अपनी प्रतिक्रिया दें - 
Email- vidyut@daanapaani.net