Tuesday, June 19, 2018

पटियाला पेग और पटियाला का कुलचा

पटियाला पेग और सोनू के कुलचे
पटियाला पेग देश भर में प्रसिद्ध है। पर जैसे पंजाब का शहर अमृतसर अपने शहर नाम पर कई तरह के व्यंजनों के लिए प्रसिद्ध है उसी तरह पटियाला की भी अपनी पहचान है। खास तौर पर स्ट्रीट फूड के मामले में बड़ा समृद्ध शहर है।
कुलचे तो आपने खूब खाए होंगे पर पटियाला के कुलचे की बात अलग है। यहां पर किला मुबारक के आसपास स्ट्रीट फूड के तौर पर कुलचे का स्वाद लिया जा सकता है। इनके कुलचे बनाने का अंदाज अलग है। यहां कुलचे में छोले के मसाले को भर देते हैं। उसके बाद रोल बनाकर आपको खाने के लिए पेश करते हैं। इसमे भी कई तरह के कुलचे हैं। पनीर कुलचा, आलू कुलचा आपकी जो पसंद हो खाएं। पटियाला के बाजार में ऐसे कुलचे की प्रसिद्ध दुकाने हैं।

तो सोनू कुलचे की दुकान पर क्या लिखा है जरा गौर फरमाइए – मशहूर हैं कुलचे सोनू के जमाने को पता है... खाता वही है जिसकी किस्मत में लिखा है। अब बात किस्मत की है तो लोग खाने पहुंच ही जाते हैं। ये सोनू की मार्केटिंग स्किल है। वैसे सोनू के अलावा कई और कुलचे वाले हैं जो अच्छा कुलचा बनाते हैं। वैसे आप पटियाला में हैं तो पंजाब के पांरपरिक स्वाद दाल, रोटी का भी आनंद ले सकते हैं। खाने पीने के यहां सैकड़ो विकल्प मौजूद है। बस स्टैंड के आसपास अनगिनत ढाबे हैं जहां पंजाबी स्वाद का आनंद लिया जा सकता है।
अगर आप पटियाला में गर्मियों के दिन में हैं तो लस्सी पीने का आनंद भी ले सकते हैं। यहां की लस्सी का स्वाद भी लाजवाब होता है। पटियाला और आसपास का इलाका दूध दही के लिहाज से समृद्ध है। मदिरा पान करने वालों के बीच पटियाला पेग काफी लोकप्रिय है। आखिर ये पटियाला पेग क्या है... पंजाबी में तमाम गाने पटियाला पेग पर बने हैं।
भारत का पटियाला पैग विदेशों तक प्रसिद्ध है। शादी पार्टी में तो इसके बिना जैसे सब अधूरा सा लगता है। कहा जाता है कि पटियाला पैग हर कोई सहन नहीं कर सकता, क्योंकि पटियाला पैग में शराब की मात्रा स्मॉल और लार्ज पैग से ज्यादा होती है।  शराब पीने वालों के अनुसार पटियाला पैग में करीब 120 मिलीलीटर शराब होती है। इसका मतलब पटियाला पैग में आधा गिलास पानी और आधा गिलास शराब होती है।
कहते हैं इसका आविष्कार पटियाला राजघराने में हुआ था।  बताया जाता है कि पटियाला पैग का सीधा संबंध है महाराजा भूपिंदर सिंह से जो कि 1891 से लेकर 1938 तक पटियाला के राजा थे। महराजा बडा पैग बनाते थे, इसी नाम पर पटियाला पेग लोकप्रिय होता गया।


एनआईएस पटियाला और पंजाबी यूनीवर्सिटी – पंजाब का शहर पटियाला शिक्षा और खेलकूद गतिविधियों का बड़ा केंद्र है। यहां नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ स्पोर्टस की स्थापना की गई है जहां से निकले खिलाड़ी एशियाई खेल और कामनवेल्थ गेम्स में देश का ना रोशन करते हैं। यहां पर पंजबा के प्रमुख विश्वविद्यालय पंजाबी यूनीवर्सिटी की भी स्थापना की गई है। एक तरह से देखा जाए तो पटियाला पंजाब की मिनी राजधानी है। यहां पर पंजाब राज्य बिजली बोर्ड, पंजाब स्टेट एजुकेशन बोर्ड आदि का मुख्यालय है। पंजाब सरकार के कई महत्वपूर्ण दफ्तर पटियाला में ही स्थित हैं।
-        विद्युत प्रकाश मौर्य 
 ( PUNJAB, PATIALA FOOD, KULCHA, PATIALA PEG )