Saturday, October 21, 2017

फिश स्पा दे आपके पांव को आराम

नन्ही नन्ही मछलियां इंसानों की कई मामले में दोस्त हो सकती हैं। आपने मछली के तेल की बात सुनी होगी जी हां काड लीवर आयल। पर नहीं मछलियां आपको पांव का पेडिक्योर भी करती हैं। इन खास मछलियों को डॉक्टर फिश या गारा रुफा के नाम से जाना जाता है। वास्तव में ये मछलियां दांत रहित होती हैं इसलिए ये पेडिक्योर करते समय काटती नहीं है। आजकल महानगरों के कई मॉल में इस तरह का फिश स्पा आप देख सकते हैं। जैसे ही आप पेडिक्योर के लिए अपने पांव पानी में डालते हैंबहुत सारी मछलियां आकर आपके पांव के चारों तरफ काटने लगती है। इस दौरान पांव में हल्की सी गुदगुदी होती है।

वास्तव में ये मछलियां फिश स्पा के दौरान आपके पांव के डेड स्किन को खा जाती हैं। फिश स्पार एक ऐसी प्रक्रिया हैजिसमें पर मछलियों का इस्तेवमाल पैरों से डेड स्किन को हटाने में किया जाता है। आम तौर पर पेडीक्योर में मृत त्वचा निकालने के लिए रेजर (ब्लेड) का प्रयोग किया जाता हैजबकि फिश पेडीक्योर में यह काम मछलियां कर देती हैं। यह एक किस्म का प्राकृतिक पेडिक्योडर है। इसके कई फायदे हैं।

चमकदार होंगे पांव -  यह पैरों से डेड स्किन हटा कर उनको चमकदार बनाता है। मछलियां पैर से बैक्टीहरिया और डेड स्किन खा जाती हैंजिससे पैरों की त्वचा पहले से निखर जाती है।



दर्द और तनाव से मुक्ति -  जब भी आप बहुत थक जाएं और अपने पैरों को आराम देना चाहेंतो तुरंत ही पास के फिश स्पा कराएंआपको आराम मिलेगा।

मन को शांति - जब पैरों को फिश टैंक में डाला जाता है और मछलियां उन पैरों पर हमला करके त्वचा को खाना शुरू कर देती हैं। इस दौरान मन को बहुत ही अच्छा महसूस होता है। यह सिर्फ इसलिए होता है क्योंकि उसी समय हमारे दिमाग से इंडोर्फिन नामक रसायन निकलता है जो सुखद एहसास दिलाता है।

नई कोशिकाओं का जन्म - फिश टैंक में गर्रा रुफा नामक मछली है तो त्वचा को काफी लाभ होगा। यह मछली अपने मुंह से डिर्थनॉल नामक एंजाइमलार के रुप में निकालती है जिससे नई कोशिकाएं पैदा होती हैं।

पैर होंगे मुलायम - फिश स्पा यह न केवल पैरों को मुलायम बनाता हैबल्कि खुजली और दाग-धब्बों को भी दूर करता है। इससे शरीर में रक्त संचालन भी ठीक हो जाता है।



गर्रा रुफा मछली करती है फिश स्पा
स्पा में गर्रा रूफा नाम की मछली का इस्तेमाल एक चिकित्सा उपचार के रुप में किया जाता है।यह सिरोसिसमस्सा और कॉलयूसिस जैसे पैरों की बीमारियों को दूर करती है। 

सावधानियां – हमेशा अपने पैरों को अच्छी तरह साफ करके ही टैंक में दोनों पांव को डालें। इससे एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति के पांव में इनफेक्शन नहीं पहुंचेगा। हमने गाजियाबाद के पेसफिक मॉल में गर्रा रुफा मछलियों द्वारा संचालित फिश स्पा सेंटर देखा। पर आप इस तरह के फिश स्पा सेंटर जगह जगह देख सकते हैं। तो कभी आजमा कर देखिए। 

 vidyutp@gmail.com
( GARRA RUFA, FISH SPA, PEDICURE  )