Monday, February 1, 2016

गंगटोक का रोपवे – आसमान से शहर को देखो...

गंगटोक शहर को देखने का एक सुंदर तरीका है रोपवे का जॉय राइड। यह रोपवे ऊपर आरंभ होता है सिक्किम विधान सभा के सामने से और नीचे इसका पड़ाव देवराली में चौराहे के पास है। हालांकि ये रोपवे एक प्वाइंट से दूसरे प्वाइंट तक आने जाने का सुगम साधन नहीं है इसलिए इसे जॉय राइड कहा जाता है। इसका टिकट 80 रुपये का आने और जाने का मिला हुआ है। आप इसके ऊपरी स्टैंड पर पहुंचे टिकट लें। रोपवे में बैठें नीचे आएं फिर ऊपर जाएं। तकरीबन आधे घंटे का समय लगेगा।


महज 10 मिनट का रास्ता है रोपवे का एक तरफ का। पर है यह बड़ा आनंददायक। पर इस दौरान आप गंगटोक शहर का विहंगम नजारा करते हैं। आप आसमान में होते हैं और सारा गंगटोक शहर आपको चारों तरफ दिखाई देता है। इस दौरान रोपवे में चल रहे बच्चे मचल उठते हैं। आसपास की हरियाली देखकर। एक तरह तो गहरी खाई दिखाई देती है तो दूसरी तरफ शहर के भवन दिखाई देते हैं।


इस दौरान आप तस्वीरें खूब ले सकते हैं। अगर वीडियो फिल्म बनाना चाहें तो इसके लिए अलग से शुल्क तय है। कई बार भीड़ होने पर रोपवे के लिए इंतजार भी करना पड़ता है। यह रोपवे सुबर साढ़े नौ बजे से शाम 5 बजे तक चलाया जाता है। त्योहारों के समय में इसका समय बढ़ाकर शाम 6 बजे तक कर दिया जाता है। बीच में अगर तेज हवा चलने लगे तो इसका संचालन बंद भी करना पड़ता है। आप चाहें तो टिकट लेकर देवराली में उतर भी सकते हैं। पर रोपवे पर लगेज लेकर चलना संभव नहीं है। रोपवे का टिकट बड़ों के लिए 80 रुपये का है जबकि बच्चों के लिए 50 रुपये का। हालांकि रोपवे का मार्ग विधानसभा भवन के ऊपर तक भी बनाया गया है, लेकिन फिलहाल वहां तक की यात्रा बंद है।

इस रोपवे का संचालन दामोदर रोपवे कंपनी करती है। जो देश में मैहर देवी समेत कई और शहरों में रोपवे चलाती है। दामोदर रोपवे अरुणाचल प्रदेश के तवांग में भी रोपवे का संचालन करती है। 

मुझे गंगटोक में इस कंपनी के एक कर्मचारी मिले जो हाल में ही तवांग से तबादले के बाद यहां पहुंचे हैं। वे बता रहे हैं कि इन दिनों (दिसंबर महीने में) तवांग में खूब बर्फ पड़ी हुई है। आप कभी तवांग भी जाएं तो हमारे रोपवे का जॉय राइड अवश्य लें।

वैसे गंटोक में घूमने के लिए शहर के आसपास कई और स्थल है। वनस्पति उद्यान. हनुमान टोंक, गणेश टोंक। इन सब स्थलों का दौरा फिर सही। आप गंगटोक से बाहर दक्षिण सिक्किम भी जा सकते हैं। साउथ सिक्किम में नामची नामक स्थान है। यह गंगटोक से कोई 96 किलोमीटर है। हालांकि मैं वहां इस बार नहीं गया। पर वहां चार धाम मंदिर प्रसिद्ध है। बड़ी संख्या में सैलानी वहां जाते हैं।

- विद्युत प्रकाश मौर्य vidyutp@gmail.com
( GANGTOK, ROAPWAY, CITY VIEW ) 



No comments:

Post a Comment