Wednesday, January 21, 2015

रायपुर में टैक्सी में दौड़ने लगी नैनो

टाटा की नन्ही कार नैनो अब टैक्सी में दौड़ने लगी है। अपनी रायपुर यात्रा  के दौरान मुझे पता चला कि    इसकी शुरुआत हो रही है छतीसगढ़ की राजधानी से। रायपुर की रेडियो टैक्सी सेवा में नैनो दौड़ने लगी है। इसके लिए कुछ नैनो टैक्सियां तो रायपुर की सड़कों पर प्रयोग के तौर पर उतर चुकी हैं। वहीं 40 टैक्सियां नैनो प्लांट की ओर से बनकर रायपुर में उतर रही हैं। ये सभी नैनो टैक्सियां पेट्रोल चलित हैं। रायपुर शहर का गुरूकृपा मोटर्स इन्हे टैक्सी सेवा में संचालित कर रहा है। इसके लिए राज्य सरकार से अनुमति ले ली गई है।

टाटा की नन्ही कार नैनो अब टैक्सी में दौड़ने लगी है। अपनी रायपुर यात्रा  के दौरान मुझे पता चला कि    इसकी शुरुआत हो रही है छतीसगढ़ की राजधानी से।

 रायपुर की रेडियो टैक्सी सेवा में नैनो दौड़ने लगी है। इसके लिए कुछ नैनो टैक्सियां तो रायपुर की सड़कों पर प्रयोग के तौर पर उतर चुकी हैं।

 वहीं 40 टैक्सियां नैनो प्लांट की ओर से बनकर रायपुर में उतर रही हैं। ये सभी नैनो टैक्सियां पेट्रोल चलित हैं। रायपुर शहर का गुरूकृपा मोटर्स इन्हे टैक्सी सेवा में संचालित कर रहा है। इसके लिए राज्य सरकार से अनुमति ले ली गई है। तो ये नैनो की एक अच्छी शुरुआत है। उम्मीद है कि दूसरे राज्यों में भी आने  वाले दिनों में  ऐसा संभव हो सकेगा। 

 

रायपुर की नैनो टैक्सी के साथ ड्राइवरों को रोजगार देने और स्वावलंबी बनाने की भी योजना है। कंपनी के साथ अनुबंध पर लगातार 3 साल टैक्सी चलाने के बाद नैनो कार ड्राइवर की अपनी हो जाएगा। इस तीन साल के दौरान एक निश्चित रकम ड्राइवर को हर माह कंपनी को अदा करना है। हालांकि श्रीलंका में साल 2011 से ही नैनो कार टैक्सी के रूप में संचालित की जा रही है। वहां मध्यम वर्ग के लोगों में नैनो टैक्सी काफी लोकप्रिय है।


 

निर्भया टैक्सी सेवा -  रायपुर नगर निगम के सामने लगे आटो एक्सपो में 13 जनवरी को नैनो टैक्सियां मुझे डिस्प्ले में लगीं दिखाई दे गईं। बाद में छतीसगढ़ के समाचार पत्रों से मालूम हुआ कि 26 जनवरी को रायपुर शहर में निर्भया टैक्सी सेवा के नाम से इनका संचालन शुरू हो गया।  बाकी कार की तुलना में नैनो को टैक्सी  में चलाना सस्ता विकल्प है क्योंकि कम पेट्रोल पीकर ज्यादा लंबा सफर कराती है। पर यह सब कुछ लंबे समय तक नहीं चल सका।   क्योंकि नैनो के शानदार सपने का ही अंत हो गया। वैसे टाटा की नैनो कार अब इतिहास का हिस्सा बन चुकी है।  नैनो की इस कहानी पर हम  आगे भी बात करेंगे। 
- विद्युत प्रकाश मौर्य -vidyutp@gmail.com  
(RAIPUR, CG, TATA NANO ) 

No comments:

Post a Comment