Thursday, February 14, 2013

मदीना बिल्डिंग से शॉपिंग और दिल्ली वापसी


हमलोग हैदराबाद आए हों तो पुराने हैदराबाद शहर के इलाके में स्थित मदीना बिल्डिंग की ओर न जाएं ऐसा कैसे हो सकता है। मदीना बिल्डिंग के आसपास ही हैदराबाद का मोतियों का बाजार है। अपने हैदराबाद प्रवास के दौरान हमलोग अक्सर यहां घूमने आते थे। तो इस बार भी हल्की बारिश के बीच हमलोग इधर घूमने पहुंच गए। 



यहां पर सैकड़ों दुकानें हैं मोतियों के गहनों की। होलसेल की भी और रिटेल भी। पर इसके बीच एक दुकान हमारी पसंदीदा है। मोतीलाल ज्वेलर्स। तो हमलोग एक बार फिर इस दुकान में हैं। अपनी पसंद की कुछ चीजें लेने के लिए। थोड़ी सी खरीददारी के बाद चारमीनार की सड़क पर सैर और इसके बाद पुराने हैदराबाद एक रेस्टोरेंट हल्का नास्ता करके वापस घर की ओर चल पड़े।

वापसी दिल्ली की ओर -  शादी के अगले दिन हमारी हैदराबाद से वापसी हो रही है। अब 16 दिन की यात्रा के बाद दिल्ली की ओर। सिकंदराबाद रेलवे स्टेशन से सुबह सुबह हमारी ट्रेन है। हालांकि एपी एक्सप्रेस हैदराबाद (नामपल्ली) से चलती है  पर हमने सिकंदराबाद में बैठने का फैसला किया। क्योंकि वनस्थलीपुरम से सिकंदराबाद पहुंचना आसान है। रेलवे स्टेशन भी हैदराबाद से ज्यादा साफ सुथरा है। मुन्ना और पांडु हमें कार से स्टेशन छोड़ने आए हैं।
हमारी एक लंबी दक्षिण भारत की यात्रा समापन पर है। हम अपनी कर्मभूमि की ओर लौट रहे हैं। ट्रेन बिल्कुल समय पर चल रही है। अब तो हैदराबाद से दिल्ली का ट्रेन का सफर कई बार हो चुका है तो सारे रास्ते जाने पहचाने से हो गए हैं।
एपी (आंध्र प्रदेश) एक्सप्रेस हैदराबाद दिल्ली एक्सप्रेस दिल्ली पहुंचने में तकरीबन 26 घंटे लेती है। अब इस ट्रेन का नाम तेलंगाना एक्सप्रेस हो गया है। कुल 1677 किलोमीटर की दूरी यह ट्रेन 64 किलोमीटर प्रति घंटे की औसत गति से तय करती है

हालांकि तेलंगाना एक्सप्रेस सुपरफास्ट ट्रेन है पर इसके ठहराव कुछ ज्यादा हैं। जुलाई 2019 में इस ट्रेन को भी एलएचबी कोच मिल गए हैं। ट्रेन अगले दिन सुबह नौ बजे के आसपास दिल्ली के निजामुद्दीन स्टेशन पहुंच गई। नवंबर का प्रथम सप्ताह है और दिल्ली के मौसम में गुनगुनी ठंड का आगाज हो चुका है। 
( यात्रा मार्ग : दिल्ली, कोचीन, तिरुवनंतपुरम, कन्याकुमारी, मदुरै, रामेश्वरम, कोयंबटूर, मेट्टुपालयम, उटी, मैसूर, बेंगलुरू, तिरुपति, हैदराबाद, दिल्ली)
विद्युत प्रकाश मौर्य- vidyutp@gmail.com 

No comments:

Post a Comment